एससी-एसटी एक्ट : भाजपा के चार दिग्गज सवर्ण नेताओं का इस्तीफा,हिली मोदी सरकार

0
216

जयपुर। अगले 6 महीनो में देश में लोकसभा के चुनाव है और उन चुनाव से पहले देश चार राज्यों में विधानसभा के चुनाव होने है, जिसमे राजस्थान, मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ अहम राज्य है। अब बात करे मद्य प्रदेश की तो राज्य में सवर्ण एक बहुत बड़ा वोट बैंक जो हमेशा से बीजेपी का साथ देता रहा है।

लेकिन अब बीजेपी के हाथ से ये सवर्ण के वोट निकलते जा रहे है। एससी एसटी एक्ट में सशोधन करना बीजेपी सरकार के लिए भारी पड़ता जा रहा है। 6 सितम्बर को सवर्णों के भारत बंद के बाद मध्य प्रदेश के कई बीजेपी नेता इस्तीफा दे रहे और पार्टी छोड़ रहे है। खबर आ रही है की विस चुनाव में टिकट की दावदारी कर रहे श्योपुर के भाजपा के जिला कोषाध्यक्ष नरेश जिंदल सहित तीन अन्य ने पार्टी और पद दोनों से इस्तीफा दे दिया है।

वहीं इससे पहले गुरुवार को मऊगंज के पूर्व विधायक व भाजपा के दिग्गज नेता लक्ष्मण तिवारी ने पार्टी की गलत नीतियों से खिन्न होकर इस्तीफा दे दिया है।बताया जा रहा है की तिवारी का इस्तीफ़ा देना बीजेपी के लिए एक बुरी खबर हो सकती है। इन सभी लोगों के इस्तीफों से बीजेपी का बड़ा वोट बैंक टूटता जा रहा है।

आपको बता दे की इससे पहले ब्राह्मण समाज के लोगों ने भी ऐलान कर दिया है की वो आने वले चुनावों में बीजेपी को वोट न देकर बल्कि नोट का इस्तेमाल करेगे। आपको बता दे की ब्राह्मण बीजेपी का सबसे बड़ा वोट बैंक है। वहीं भागवताचार्य देवकीनंदन ठाकुर ने कहा है कि केंद्र सरकार अगले दो महीने में इस एक्ट को सुप्रीम कोर्ट के आदेशानुसार रूप में बदल दे। यदि ऐसा नहीं हुआ तो हम सब मिलकर देश को जातिगत राजनीति वाले दलों से स्थाई समाधान देंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here