महाराष्ट्र: सरकार बनाने को लेकर सियासत तेज, बैठक के बाद ये बोले नेता

0

महाराष्ट्र में सियासी खींचतान को लेकर भले ही राष्ट्रपति शासन लग गया है। इसके बाद भी सरकार गठन को लेकर जोर आजमाइश का सिलसिला अभी भी जारी है। राज्य में राष्ट्रपति शासन के बाद भी पार्टियां लगातार बैठकें करने में लगी है। पार्टियों की बैठकों से सरकार बनाने के कोशिशों से इनकार नहीं किया जा सकता है।

शिवसेना,एनसीपी और कांग्रेस की बैठक के बाद बीजेपी की कोर कमेटी की बैठक गुरुवार को हुई। बैठक के बाद बीजेपी नेता आशीष शैल्लार से मीडिया से कहा कि जय श्री राम, हो गया काम की बात कही। भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की कोर कमेटी बैठक में महाराष्ट्र के पूर्व सीएम देवेंद्र फडणवीस, प्रदेश अध्यक्ष चंद्रकांत, गिरीश महाजन, आशीष शेल्लार, पंकजा मुंडे सहित कई नेतागण शामिल हुए थे।

आशीष शेल्लार के बयान से कई राजनीतिक मायने लगाये जा रहे हैं। पहला कयास ये भी लगाया जा रहा है कि क्या बीजेपी को जिस जादुई नंबर की आवश्यकता थी क्या वह प्राप्त हो गया है। या फिर यों कहें कि बीजेपी महाराष्ट्र में सरकार बनाने की और बढ़ने में सफल हो रही है। शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी के साथ कॉमन मिनिमम प्रोग्राम बनाने में जुटे हुए हैं। तीनों पार्टियों ने गुरुवार को साझा प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा रि हमरा न्यूनतम साझा कार्यक्रम तैयार है। सरकार बनाने की और कदम जल्द बढ़ने वाले हैं।

आपको बता दें कि महाराष्ट्र में एनसीपी, कांग्रेस, शिवसेना में गठबंधन को लेकर बैठकों का पहले दौर चल चुका लेकिन बात नहीं बनी। बीजेपी और शिवसेना को राज्य में सरकार बनाने के लिए राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी पहले ही न्यौता दे चुके थे। बीजेपी महाराष्ट्र में सरकार बनाने से पहले पीछे हठ चुकी थी। शिवसेना तय समय में बहुमत पत्र राज्यपाल के सामने पेश नहीं कर पाई थी। इसके चलते राज्यपाल ने एनसीपी को सरकार बनाने के समय दिया था। इस बीच शिवसेना सुप्रीम कोर्ट जा पहुंची थी। इधर, मोदी कैबिनेट ने राष्ट्रपति शासन को मंजूरी प्रदान कर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से राज्य में राष्ट्रपति शासन की सिफारिश की थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here