Bihar Election 2020: लालू के गढ़ में तेजस्वी की जीत आसान नहीं, त्रिकोणीय मुकाबला…

0

बिहार विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण के 3 नवंबर को मतदान होने हैं। चुनावों में जीत का परचम लहराने के लिए सभी दल धुआंधार प्रचार कर रहे हैं । जेडीयू के पक्ष में पीएम मोदी ने बिहार चुनाव की कमान अपने हाथ में ले रखी है। वहीं महागठबंधन का हिस्सा कांग्रेस की तरफ से राहुल गांधी भी बिहार में चुनाव प्रचार करने में पूरी ताकत झौंक रहे हैं।आरजेडी नेता तेजस्वी .यादव महागठबंधन के लिए समर्थन जुटाने के लिए प्रचार में अपना पूरा जोर लगा रहे हैं।

बिहार में एनडीए की सरकार फिर से सत्ता में लौटने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ना चाहती है। वहीं तेजस्वी यादव अपनी खोई विरासत को फिर से सत्ता में लाना चाहते हैं। लेकिन उनके लिए अपनी ही सीट राघोपुर पर जीत हासिल करना उतना आसान नहीं होगा। जहां बीजेपी नेता सतीश कुमार और लोजपा के राकेश रोशन मुकाबले को त्रिकोणीय बना रहे हैं। बिहार चुनाव को लेकर समीकरण बदलने से इनकार नहीं किया जा सकता है। इस बार जेडीयू के पास बीजेपी का समर्थन है। वहीं आरजेडी ने कांग्रेस और वामपंथी दलों के साथ महागठबंधन कर रखा है।

राघोपुर सीट से 12 प्रत्याशी चुनावी मैदान में उतरकर अपना भाग्य आजमा रहे हैं। लोजपा के चिराग पासवान के नेतृत्व वाली लोजपा ने मुकाबले को त्रिकोणीय बनाने के लिए राकेश रोशन को इस सीट से मेदान में उतारा है।सतीश कुमार विधानसभा क्षेत्र में रोजाना प्रचार प्रसार कर रहे हैं। लेकिन तेजस्वी यादव आरजेडी के स्टार प्रचारक होने की वजह से अपने क्षेत्र में अधिक प्रचार नहीं कर पा रहे हैं। यह पहला मौका है जब चारा घोटाले में सजा काट रहे लालू  प्रसाद यादव और राम विलास पासवान की गैरमौजूदगी में बिहार चुनाव लड़ा जा रहा है।

Read More…
First Seaplane Service in India: देश के पहले सी-प्लेन को हरी झंडी, पीएम मोदी ने किया पहला सफर….
Indira Gandhi Death Anniversary: इंदिरा गांधी की हत्या और उसके बाद भयावहता को बयां करते वो 12 घंटे….

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here