भारती एक्सा जनरल का प्रीमियम से लाभ 29 फीसदी बढ़कर 2285 करोड़ रुपये हुआ

0
81

भारती एक्सा जनरल इंश्योरेंस ने मंगलवार को कहा कि उसका ग्रॉस रिटेन प्रीमियम (जीडब्लूपी) 2017-18 में 1772 करोड़ रुपये से 29 प्रतिशत बढ़कर वित्त वर्ष 2018-19 में 2285 करोड़ रुपये हो गया। कम्पनी के मुताबिक यह वृद्धि समस्त उत्पाद सेगमेंट्स एवं सभी वितरण चैनलों में हुई। इसने 31 मार्च, 2019 को समाप्त हुए वित्तवर्ष में संपूर्ण औद्योगिक वृद्धि के मुकाबले 12.9 प्रतिशत की बेहतरीन वृद्धि तथा 25 प्रतिशत की प्राईवेट सेक्टर की वृद्धि दर्ज की।

औद्योगिक वृद्धि के मुकाबले दोगुनी प्रीमियम वृद्धि के चलते कंपनी ने 31 मार्च, 2019 को समाप्त हुए वित्तवर्ष में 3 करोड़ रुपये का सकल लाभ अर्जित किया, जबकि 2017-18 में इसे 92.6 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ था।

भारती एक्सा जनरल इंश्योरेंस के प्रबंध निदेशक एवं सीईओ संजीव श्रीनिवासन ने कहा, “हमें वित्तवर्ष 2018-19 में पहली बार पूरे साल लाभ अर्जित करने और उद्योग के मुकाबले ज्यादा तेजी से वृद्धि करने की खुशी है। यह काम वितरण नेटवर्क का विस्तार करके, उत्पाद श्रृंखला के डाईवर्सिफिकेशन, अनेक सामरिक वितरण पार्टनरशिप्स एवं बिजनेस अलायंसेस जोड़कर संभव हुआ। हम चैनल एवं सेगमेंट के डाइवर्सिफिकेशन, प्रोडक्टिविटी एवं बुद्धिमान एक्सपेंस मैनेजमेंट पर केंद्रित रहेंगे और आने वाले सालों में वृद्धि करते रहेंगे।”

उन्होंने बताया कि बिजनेस के मुख्य आंकड़ों और औद्योगिक वृद्धि दर से ज्यादा तेजी से विकास करने के अलावा विस्तृत क्लेम्स एवं एक्सपेंस अनुपात के साथ टॉप लाईन परफॉर्मेंस काफी मजबूत रही और संपूर्ण कंबाईंड अनुपात बेहतर हुआ।

कंबाईंड अनुपात फायदे का माप है, जिसमें प्रीमियम के अनुपात के रूप में क्लेम एवं खर्च को लिया जाता है। लॉस अनुपात एवं खर्च अनुपात में सुधार के चलते यह कंबाईंड अनुपात वित्तवर्ष 2017-18 में 126.8 प्रतिशत से सुधरकर 2018-19 में 115.3 प्रतिशत हो गया।

लॉस अनुपात 2017-18 में 83 प्रतिशत से घटकर 2018-19 में 77 प्रतिशत हो गया, जबकि खर्च अनुपात में 2017-18 की समान अवधि में 43.8 प्रतिशत के मुकाबले 31 मार्च, 2019 को समाप्त हुए वित्तवर्ष में 38.3 प्रतिशत की काफी गिरावट आई।

भारती एक्सा जनरल इंश्योरेंस ने सभी उत्पाद श्रृंखलाओं एवं सभी चैनलों में संपूर्ण वृद्धि और हैल्थ इंश्योरेंस, पर्सनल एक्सीडेंट, ट्रैवल, कमर्शियल लाईंस और क्रॉप में अच्छी वृद्धि दर्ज की।

उत्पादों की हैल्थ, पर्सनल एक्सीडेंट एवं ट्रैवल श्रेणी वित्तवर्ष-18 में 149 करोड़ रुपये से 125 प्रतिशत बढ़कर वित्तवर्ष-19 में 334 करोड़ रुपये हो गई। कमर्शियल लाईंस वित्तवर्ष-18 में 170 करोड़ रुपये के मुकाबले 70 प्रतिशत की वृद्धि के साथ वित्तवर्ष-19 में 288 करोड़ रुपये हो गई। मोटर इंश्योरेंस, जो बिजनेस में 50 प्रतिशत से ज्यादा योगदान देती है, 6 प्रतिशत की वृद्धि के साथ वित्तवर्ष 2018 में 1075 करोड़ रुपये के मुकाबले वित्तवर्ष 2019 में 1143 करोड़ रु. हो गई।

वितरण के हर चैनल ने काफी वृद्धि दर्ज की और कॉपोर्रेट चैनल वित्तवर्ष 2018 में 186 करोड़ रुपये से 57 प्रतिशत बढ़कर वित्तवर्ष 2019 में 294 करोड़ रुपये हो गया। कंपनी का रिटेल बिजनेस वित्तवर्ष 2018 में 1138 करोड़ रुपये के मुकाबले 22 प्रतिशत बढ़कर वित्तवर्ष 2019 में 1392 करोड़ रुपये हो गया। क्रॉप एवं गवर्नमेंट बिजनेस ने 37 प्रतिशत की वृद्धि की और यह वित्तवर्ष 2018 में 379 करोड़ रुपये से बढ़कर वित्तवर्ष 2019 में 520 करोड़ रुपये हो गया।

श्रीनिवासन ने कहा, “वितरण नेटवर्क और बिजनेस अलायंसेस बढ़ाने पर हमारा निरंतर केंद्रण रिटेल एवं कॉपोर्रेट बिजनेस में कंपनी की संपूर्ण वृद्धि में मुख्य भूमिका निभाता रहा है। हम आने वाले सालों में वृद्धि बढ़ाने के लिए बेहतर रिस्क सलेक्शन और कॉस्ट मैनेजमेंट के साथ औद्योगिक वृद्धि का एक स्थिर मार्ग प्रशस्त करेंगे।”

न्यूज स्त्रोत आईएएनएस


SHARE
Previous articleWorld Cup 2019, ENG vs AFG: इंग्लैंड जैसी मुश्किल चुनौती से कैसे पार पाएगी अफगानिस्तान
Next articleहैदराबाद में अंबेडकर की अर्घमूर्ति लगाने की कोशिश कर रहे कांग्रेस नेता गिरफ्तार
बहुत ही मुश्किल है अपने बारे में लिखना । इसलिए ज्यादा कुछ नहीं, मैं बहुत ही सरल व्यतित्व का व्यक्ति हूं । खुशमिजाज हूं ए इसलिए चेहरे पर हमेशा खुशी रहती हैए और मुझे अकेला रहना ज्यादा पंसद है। मेरा स्वभाव है कि मेरी बजह से किसी का कोई नुकसान नहीं होना चाहिए और ना ही किसी का दिल दुखना चाहिए। चाहे वो व्यक्ति अच्छा हो या बुरा। मेरे इस स्वभाव के कारण कभी कभी मुझे खामियाजा भी भुगतान पड़ता है। मैं अक्सर उनके बारे में सोचकर भुला देता हूं क्योंकि खुश रहने का हुनर सिर्फ मेरे पास है। मेरी अपनी विचारए विचारधारा है जिसे में अभिव्यक्त करता रहता हूं । जिन लोगों के विचारों से कभी प्रभावित भी होता हूं तो उन्हें फोलो कर लेता हूं । अभी सफर की शुरुआत है मैने कंप्यूटर ऑफ माटर्स की डिग्री हासिल की है और इस मीडीया क्षेत्र में अभी नया हूं। मगर मुझे अब इस क्षेत्र में काम करना अच्छा लग रहा है। और फिर इसी में काम करने का मन बना लेना दूसरों के लिये अश्चर्य पूर्ण होगा। लेकिन इससे पहले और आज भी ब्लागर ने एक मंच दिया चिठ्ठा के रुप में, जहां बिना रोक टोक के आसानी से सबकुछ लिखा या बताया जा सका। कभी कभी मन में उठ रही बातों या भावों को शब्दों में पिरोयाए उनमें खुद की और दूसरों की कहानी कही। कभी उनके द्वारा किसी को पुकाराए तो कभी खुद ही रूठ गया। कई बार लिखने पर भी मन सतुष्ट नहीं हुआ और निरंतर कुछ नया लिखने मन बनता रहता है। अजीब सी बेचैनी जो न जाने क्या करवाएगी और कितना कुछ कर गुजर जाने की तमन्ना लिए निकले हैं इन सफरों, जहां उम्मीद और विश्वास दोनों कायम हैं जो अर्जुन के भांति लक्ष्य को भेद देंगे । मुझे अभी अपने जीवन में बहुत कुछ करना है किसी के सपनों को पूरा करना हैं । अब तो बस मेरा एक ही लक्ष्य हैं कि मैं बस उसके सपने पूरें करू।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here