प्रेमियों के लिए नहीं हैं इससे बैहतर जगह

0
498

ब्लू माउंटेन हमेशा रहस्यवाद में डूबा हुआ है, और ऊटी इसका अपवाद नहीं है। प्रत्येक पर्वतीय प्रेमी के लिए, पहाड़ियों की रानी के रूप में ज्ञात शहर की यात्रा करने का बहुत विचार किसी अन्य की तरह एक आकर्षण रखता है। एक बार ईस्ट इंडिया कंपनी का ग्रीष्मकालीन मुख्यालय (और एक बहुत अच्छे कारण के रूप में) माना जाता है, ऊटी, जिसे उदगमंद के नाम से भी जाना जाता है तमिलनाडु का एक हिल स्टेशन है जो किसी के लिए एक बहुत ही लोकप्रिय पर्यटन स्थल के रूप में कार्य करता है जो किसी भी जगह पर आराम करने और आराम करने के लिए एक मनोरम स्थान है। समुद्र तल से 2,240 मीटर की ऊँचाई पर नीलगिरी पहाड़ियों के बीच ऊटी को चुना गया –

द टोय ट्रेन – नीलगिरी की पहाडियों में चलने वाली इस ट्रेन को टोय ट्रेन के नाम से भी जाना जाता हैं। यह ऊटी का सबसे मशहूर आकर्षण हैं। इसे यूनेस्को के द्वारा वर्ल्ड हेरिटेज साईट घोषित कर दिया गया हैं। यह ट्रेन सन् 1899 में चालू करी गई थी।

ऊटी लेक –ऊटी लेक सबसे सुंदर और रिफ्रेशिंग जगह हैं ऊटी में। यह कम से कम 2 कि.मी की दूरी पर हैं पहाडियों से । ऊटी लेक 65 एकड़ के क्षेत्र में फैली हुई है, और इसकी नींव जॉन सुलिवन द्वारा रखी गई थी, जो 1824 में कोयम्बटूर के कलेक्टर थे।

ऊटी रोज गार्डन – ऊटी रोज गार्डन ऊटी के बिल्कुल बीच में हैं। इसे जयललीता रोज गार्डन भी कहा जाता हैं। प्रकृति प्रेमी गुलाब के बगीचे को मधुमक्खियों के छत्ते की तरह खींचते हैं। मनोरम सुगंधित गुलाब के लिए समर्पित क्षेत्रों के साथ हरे भरे बगीचे का दृश्य याद करने के लिए एक दृश्य है।

एमरलैंड लेक – एमरलैंड लेक एमरलैंड गाँव में स्थित हैं। यह ऊटी से 20-22 कि.मी दूर हैं। शांत और दूर की भीड़ से दूर, झील और उसके आस-पास का इलाका ज्यादा साफ-सुथरा है और प्रकृति और शांत वातावरण के बीच इत्मीनान से समय का आनंद लेने के लिए एक आदर्श स्थान प्रदान करता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here