माणिक्य रत्न को धारण करने से पहले ध्यान रखें ये खास बातें…

0
37

हर व्यक्ति अपने जीवन में सुख समृद्धि को लाने के लिए कई सारे उपाय करता हैं। कई तरह के रत्नों को भी धारण करता हैं। वही ज्योतिष शास्त्र के मुताबिक माणिक्य रत्न सूर्य का प्रतिनिधित्व करता है। ऐसा माना जाता हैं,कि जिस किसी की कुंडली में सूर्य का शुभ प्रभाव पड़ता हैं। उसे माणिक्य रत्न को धारण करना बहुत ही अच्छा होता हैं। इसे धारण करने से सूर्य की पीड़ा शांत और कम हो जाती हैं।

वही रत्न मनुष्य को मान—सम्मान, पद की प्राप्ति करवाने में भी सहायक हैं। मगर माणिक्य पहनने से पहले यह जरूर जान ले कि दोषयुक्त माणिक्य लाभ की जगह पर हानि अधिक पहुचाता हैं। तो आइए जानते हैं। कि क्या है वो सारी सावधानियां—

ज्योतिषीय में रत्न ज्योतिष के मुताबिक जिस माणिक्य में आड़ी तिरछी रेखाएं या फिर जाल जैसा कुछ दिखाई दे तो वह माणिक्य गृहस्थ जीवन को नाश करने वाला माना जाता हैं और वही जिस माणिक्य रत्न में दो से ज्यादा रंग दिखाई दें तो समझ लीजिए कि यह माणिक्य रत्न आपके जीवन में कई सारी परेशानियां और दिक्कतों को ला सकता हैं। वही ऐसा माना जाता हैं,कि जिस माणिक्य में चमक नहीं होती हैं।

ऐसा माणिक्य विपरीत फल प्रदान करने वाला होता हैं। तो इसलिए कभी भी भूलकर बिना चमक वाला माणिक्य नहीं पहनना चाहिए। वही धुएं के रंग जैसा दिखने वाल माणिक्य रत्न भी बहुत ही अशुभ और हानिकारक माना जाता हैं। वही मटमैला माणिक्य भी अशुभ होता हैं। वही इस माणिक्य रत्न को खरीदने से पहले यह जरूर देख ले कि इसका रंग ऐसा बिल्कुल भी ना हो।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here