इस रत्न को धारण करते ही चमक जाएगी किस्मत…

0
70

रत्न ज्योतिष के अनुसार किसी भी व्यक्ति के जीवन पर उसके कर्म के साथ राशि और उससे संबंधित ग्रहों का सीधा प्रभाव पड़ता हैं। इससे हम भूत, वर्तमान और भविष्य की गणना बड़ी ही सरलता से कर लेते हैं। जो कि व्यक्ति को परिशानियों और दुखों के निर्वाण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती हैं। हर राशि का रत्न किसी न किसी ग्रह से संबंधित होता हैं। यदि किसी व्यक्ति की कुंडली में कोई ग्रह कमजोर हो तो ज्योतिषाचार्य उससे संबंधित रत्न पहनने की सलाह देते हैं। इस तरह एक रत्न हैं,माणिक्य जिसे धारण करने से आपकी किस्म चमक सकती हैं।

आइए जानते हैं माणिक्य से जुड़ी कुछ खास बातें…

आपको बता दें कि इसका स्वामी ग्रह सूर्य और राशि सिंह होता है। रत्न ज्योतिष के अनुसार वैसे तो माणिक्य रूबी रत्न को धारण करने के कई लाभ उल्लेखित हैं। माणिक्य धारण करने वाले व्यक्ति को प्रोफ़ेशनल क्षेत्र में सफलता प्राप्त होती हैं। इसके प्रभाव से जातक समाज में अग्रणी भूमिका निभाता हैं,और उसे ख्याति प्राप्त होती हैं। ज्योतिष के मुताबिक किसी जातक की कुंडली में यदि सूर्य उच्च स्थिति में हो और वह माणिक्य धारण कर ले तो उसे सरकारी अथवा निजी क्षेत्र में उच्च पद की प्राप्ति होती हैं। स्वास्थ्य के नज़रिए से भी माणिक्य के कई सारे फायेद होते हैं।
इससे जातक के नेत्र संबंधी विकार एवं शारीरिक कमजोरी दूर होती हैं। माणिक्य धारण की विधि—
माणिक्य को सोने की अंगूठी में जड़वाकर रविवार, सोमवार या गुरुवार के दिन पहनना चाहिएं पहनने से पहले माणिक्य को गंगाजल से शुद्ध कर लेना चाहिए। ध्यान रखें। यह आपकी त्वचा से अवश्य स्पर्श होना चाहिए। कम से कम माणिक्य रत्न दो कैरेट का होना चाहिए। अगर संभव हो तो आप पांच रत्ती का रूबी भी धारण कर सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here