PM मोदी और जिनपिंग की मुलाकात से पहले चीन ने भारत के साथ सीमा विवाद पर दिया ये बयान

0
107

जयपुर।   भारत के प्रधानमंत्री और चीन के प्रमुख सीजन पिंकी मुलाकात होने वाली है और उससे पहले चीन के राजदूत सुन विद्वान ने कहा है कि भारत और चीन को क्षेत्रीय स्तर पर संवाद के माध्यम से शांतिपूर्वक विवादों को हल करना चाहिए और संयुक्त रूप से शांति तथा स्थिरता को बुलंद करना चाहिए.

आपको बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग के दूसरे अनौपचारिक शिखर सम्मेलन से पहले चीनी राजदूत ने यह बात कही है. वहीं चेन्नई के समीप प्राचीन तटीय शहर मामल्लापुरम में शिखर सम्मेलन की तैयारियों पर कश्मीर के मुद्दे की पृष्ठभूमि पर हो रही है और दोनों पक्षों ने इसी की भारत यात्रा की तारीखों की घोषणा अभी तक नहीं करी है.

मिली जानकारी के अनुसार खबर यह है कि कल चेन्नई में उनकी मुलाकात करी जाएगी वहीं चीनी दूध ने कहा कि भारत और चीन दोनों को मतभेदों के प्रबंधन के मॉडल से आगे जाना चाहिए और सकारात्मक ऊर्जा के संचय के जरिए द्विपक्षीय संबंधों को आकार देना और सांझा विकास के लिए अधिकतम सहयोग की दिशा में काम करना चाहिए यह दोनों देशों के लिए एक अच्छा मौका है.

इसके अलावा चीन के राजदूत ने कहा कि क्षेत्रीय स्तर पर हमें शांतिपूर्वक बातचीत और विचार विमर्श करके विवादों को हल करना चाहिए तथा संयुक्त रूप से क्षेत्रीय शांति और स्थिरता को कायम रखने के लिए काम करना चाहिए.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here