बैंक ऑफ चाइना भारत में खोलेगा अपनी शाखा, आरबीआई ने दी इजाजत

0
80

जयपुर, भारत ने चाइना के दूसरे सबसे बड़े बैंक, बैंक ऑफ चाइना को देश में कारोबार करने का लाइसेंस दे दिया है। बाताया जा रहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चीन शी जिनफिंग से इसे लेकर वादा किया था। यह चीन का दूसरा सबसे बड़ा सरकारी बैंक है जिसकी मार्केट केप वैल्यू 158.6 बिलियन डॉलर है। साथ ही यह हॉंगकॉंग व शंघाई स्टोक एक्सचेंज लिस्ट में भी शामिल है। जानकारी के अनुसार ये बैंक मुंबई में अपनी शाखा खोलेगा।Image result for बैंक ऑफ़ चीन

बैंक ऑफ चाइना ने वर्ष 2016 में शाखा खोलने के लिए आवेदन किया था। लेकिन एक आतंकी संगठन हमास को आर्थिक सहायता देने के आरोपों के चलते लाइसेंस जारी करने में इतना समय लगा है। बैंक अधिकारियों ने इन आरोपों का निराधार बताते हुए कहा था कि हम सयुंक्त राष्ट की एफएटीएफ के नियमों का पूर्ण रूप से पालन करते है। और हमने किसी आतंकी संगठन को कोई सहायता नहीं दी है। इस बैंक के खुल जाने के बाद चीन के भारत में दो बैंक हो जाएंगे।Image result for बैंक ऑफ मलेशिया

अन्य देशों के बैंको ने भी मांगी है व्यापार शुरू करने की मंजूरी

भारत में अपनी व्यापारिक शाखाएं खोलने के लिए चीन के अलावा अन्य देशों के बैंकों ने भी इजाजत मांगी है। इस तरह की इजाजत मांगने वाले देशों में ईरान, नीदरलैंड मलेशिया, और साउथ कोरिया शामिल है। साउथ कोरिया व मलेशिया के बैंको के आवेदनों को खारिज करके फिर से आवेदन करने के लिए कहा गया है।Image result for आरबीआई गवर्नर

45 विदेशी बैंक दे रहै हैं भारत में अपनी सेवाएं

भारत में अपनी सेवाए देने के मामले में यूके का स्टैंडर्ड चार्टर्ड बैंक है जिसकी हमारे देश में करीब 100 से भी अधिक शाखाए है। आपको बता दें कि चाइना के इस बैंक के खुलने के बाद भारत में कुल 46 विदेशी बैंक हो जाएंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here