आर्थिक समृद्धी के लिए हमेशा करें अपनी पत्नी का सम्मान

0
109

जयपुर। वैवाहिक जीवन में पति-पत्‍नी के बीच छोटी छोटी बात पर खट्टी-मीठी नोंकझोंक तो होती रहती है। लेकिन अगर यह नोक झोक बढते बढते इतनी बढ जाए की फिर सम्हालने में न आये तो रिश्ते के लिए यह खतरे का काम करता है। पति अगर गुस्से में पत्नी को कुछ गलत बोलता है या हाथ उठाता है तो ऐसे में पति अपने लिए भी मुशिबत को बुलाने का काम भी करता है।  क्योंकि अगर पति पत्‍नी से लडाई करके उसकी बेइज्‍जती करता है तो यह काम पति के लिए काफी भारी पड़ सकता है।

महिलाएं घर की लक्ष्मी होती हैं और अगर उस लक्ष्मी की बेइजती करता है तो देवी लक्ष्मी नाराज होती है और घर से चली जाती है। वैसे भी शास्त्रों में कहा गया है जिस घर में स्त्री का अपमान होता है वहां देवी लक्ष्‍मी का निवास नहीं होता।

 

  • ज्‍योतिष के अनुसार, पति-पत्‍नी जिनकी कुंड़ली में शुक्र पुरुष की कुंडली और गुरु स्त्री की कुंडली में अगर शादी और दांपत्य का कारक ग्रह है तो ऐसे लोगों की शादी हमेशा खुशहाल रहती है।

husband wife love after office job

  • कुंड़ली में शुक्र ग्रह के प्रभाव से व्यक्ति हमेशा सुखी रहता है। शुक्र के शुभ प्रभाव से व्यक्ति को जीवन में मकान और वाहन का सुख प्राप्त होता है। शुक्र किसी को भी भोग विलास का जीवन जीने के साधन दिलाता है।

  • कुंड़ली में शुक्र ग्रह के शुभ प्रभाव से जीवन में सुख और ऐश्वर्य की प्राप्ती होती है।  जिस लड़की की कुंड़ली में शुक्र ग्रह  शुभ स्थिती में होता है वह लड़की प्रतियोगिताओं में अक्सर विजयी होती हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here