BSNL-MTNL की संपत्ति बेचने की तैयारी शुरू, 37500 करोड़ की प्रॉपर्टी की होगी नीलाम

0

दूरसंचार कंपनी भारत संचार निगम लिमिटेड (BSNL) और महानगर टेलिफोन निगम (MTNL) की संपत्ति को बेचने की प्रक्रिया तेज हो गई है। आर्थिक तंगी का सामना कर रही इन कंपनियों की लैंड होल्डिंग की प्रक्रिया को सरकार ने शुरू कर दिया है।

कोरोना संकट के बीच दूरसंचार की एसेट मॉनिटाइनजेश के पहले चरण के तहत प्रॉपर्टी बेचने की संभावनाओं को तलाशने की जिम्मेदारी कंसल्टेंसी फर्म जोंस लैंग लासेल, सीबीआरई और नाइट फ्रैंक को सैंपी है। जुलाई का आखिरी पखवाड़े तक ये अपनी रिपोर्ट सौंपेंगें।

बिक्री से मिलने वाले पैसे का उपयोग कंपनी की आर्थिक हालात को सुधारने के लिए किया जाएगा। एमटीएनएल और बीएसएनएल की कुल 37500 करोड़ रुपये की संपत्ति का विक्रय किया जाना है। इसके तहत कंपनी की बिल्डिंग और खाली जमीन शामिल है। पिछले 10 में से 9 साल घाट में रहने वाली बीएसएनएल और एमटीएनएल आगामी तीन सालों में 37500 करोड़ रुपये विनिवेश जुटाने का लक्ष्य़ रखा है।

कर्ज का सामना कर रही दूरसंचार कंपनियों को खर्च घटाने के लिए कर्मचारियों को स्वैच्छिक सेवानिवृति का विकल्प दिया था। सरकार ने अक्टूबर के महीने में एमटीएनएल और बीएसएनएल को रफ्तार देने के लिए 69 हजार करोड़ रुपये के पैकेज का ऐलान किया था। इसके तहत दोनों कंपनियों को विलय, कर्मचारियों की स्वैच्छिक सेवानिवृति और संपत्तियों की बिक्री देने की घोषणा थी।

केंद्र सरकार ने लक्ष्य निर्धारित किया है कि दोनों कंपनियों के विलय के बाद बनने वाली ईकाई को दो साल में मुनाफे की ओर ले जाना है। सरकार चाह रही है कि आगामी दो साल में दोनों कंपनियां मुनाफे की दिशा में कदम रख देगी।

Read More…
Coronavirus India: पिछले 24 घंटे में मिले 22 हजार से ज्यादा मरीज, 482 लोगों की मौत
Monsoon Updates: गुजरात में भारी बारिश से जलमग्न हुए कई इलाके, पानी से जनजीवन बेहाल

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here