असम : सेवा केंद्रों पर उमड़ी एनआरसी से बाहर लोगों की भीड़

0
307

असम के 2,500 एनआरसी सेवा केंद्रों पर शुक्रवार को हजारों लोगों की भीड़ राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) मसौदे में अपने नाम शामिल नहीं करने के कारणों को जानने के लिए उमड़ पड़ी। इसमें से ज्यादातर सेवा केंद्रों पर लोगों की बड़ी कतारों की वजह से व संभालने के लिए कम कर्मचारी होने से अराजकता की स्थिति पैदा हुई। लोगों ने शिकायत की कि कतार में घंटों इंतजार करने के बाद भी वे दावा व आपत्ति करने का फार्म हासिल नहीं कर सके।

असम में एनआरसी मसौदा सूची 30 जुलाई को प्रकाशित हुई। इस सूची से 40 लाख से ज्यादा लोगों के नाम बाहर हैं।

एनआरसी अधिकारियों ने पहले कहा था कि सेवा केंद्र सात अगस्त को खुलेंगे, जिन लोगों के नाम एनआरसी मसौदे में शामिल नहीं हैं, वे अपने आवेदनों के अस्वीकार किए जाने के कारण जान सकेंगे और अपने दावे व आपत्तियां दाखिल कर सकेंगे।

दावों व आपत्तियों के दाखिल करने का कार्य 30 अगस्त से शुरू होगा और 28 सितंबर तक चलेगा। इसके लिए फार्म सेवा केंद्रों पर उपलब्ध होंगे। इसमें हर सेवा केंद्र राज्य के 10 गांवों को सेवाएं देगा।

एनआरसी मसौदे में 2,89,836,77 लोगों के नाम शामिल थे, जबकि कुछ ‘विसंगतियों’ के कारण 40,07,707 लोगों के नाम गायब हैं। कुल 32,991,384 लोगों ने अपने नाम शामिल करने के लिए आवेदन किया था।

न्यूज स्त्रोत आईएएनएस

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here