स्मार्टफोन खरीदने जैसा आसान हो म्यूचुअल फंड में निवेश :अनिल अंबानी

0

रिलायंस धीरूभाई अंबानी समूह के प्रमुख अनिल अंबानी ने भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड से म्यूचुअल फंडों के लिए निवेश और विज्ञापन नियमों को सरल करने को कहा है। अंबानी ने कहा कि म्यूचुअल फंड में निवेश स्मार्टफोन खरीदने जैसा ही आसान होना चाहिए। एसोसिएशन आफ म्यूचुअल फंड्स इन इंडिया के एक कार्यक्रम में अनिल अंबानी ने म्यूचुअल फंड के निवेश और नियमों के बारें में चर्चा केे दौरान अपनी बात रखी।

25 में से सिर्फ एक भारतीय ही करता है म्यूचुअल फंड में निवेश

अनिल अंबानी ने कार्यक्रम के दौरान कहा कि, देश में प्रत्येक 25 में से एक व्यक्ति ही म्यूचुअल फंड में निवेश करता है, म्यूचुअल फंड के निवेशकों की संख्या को पांच साल में दस गुना कर 60 करोड़ किया जा सकता है। उन्होंने कहा, आज भारतीय म्यूचुअल फंड उद्योग को जनधन अभियान की जरूरत है, आंकड़े देते हुए अंबानी ने कहा कि 10 में से 9 भारतीयों के पास मोबाइल कनेक्शन है, 10 में से तीन के पास स्मार्टफोन है, लेकिन 25 में से सिर्फ एक भारतीय ही म्यूचुअल फंड में निवेश करता है।

भारत में म्यूचुअल फंड उद्योग अभी युवा अवस्था में है

अनिल अंबानी के समूह की कंपनी रिलायंस कैपिटल देश की सबसे बड़ी म्यूचुअल फंड कंपनियों में से एक का परिचालन करती है, उन्होंने कहा कि यदि वैश्विक परिप्रेक्ष्य में देखें तो ये आंकड़े और हैरान करते हैं, दुनिया में 58 ऐसी संपत्ति प्रबंधन कंपनियां हैं जो भारत के समूचे म्यूचुअल फंड उद्योग से अधिक की संपत्तियों का प्रबंधन करती हैं। उन्होंने कहा कि भारत का म्यूचुअल फंड उद्योग अभी युवा अवस्था में है, वास्तव में मैं कहूंगा कि यह अभी किशोरावस्था से निकला है, अंबानी ने इस बात का जिक्र किया कि पूर्ववर्ती यूटीआई ने 1964 में देश का पहला म्यूचुअल फंड शुरू किया था, उन्होंने कहा कि 30 साल तक इस क्षेत्र में कोई निजी क्षेत्र की कंपनी नहीं थी।

धीरूभाई अंबानी ने सबसे पहले इस संभावना को पहचाना

अंबानी ने कहा, भारतीय पूंजी बाजार के जनक कहे जाने वाले मेरे पिता धीरूभाई अंबानी ने सबसे पहले इस संभावना को पहचाना। रिलायंस में हमने अपने रिश्तेदार श्याम कोठारी के साथ देश का निजी क्षेत्र का पहला म्यूचुअल फंड 1993 में कोठारी पायोनियर म्यूचुअल फंड नाम से शुरू किया, इसके बाद हमने अपनी म्यूचुअल फंड कंपनी 1995 में रिलायंस म्यूचुअल फंड के नाम से शुरू की।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here