अभिताभ बच्चन जन्मदिन विशेष: कुंड़ली में शुभ ग्रहों के योग के कारण बने सदी के महानायक

0
139

जयपुर। आज सदी के महानायक अमिताभ बच्चन का जन्मदिन हैं। इनके जन्मदिन के अवसर पर हम इनकी कुंड़ली का विश्लेषण कर रहें हैं। अमिताभ का जन्म 11 अक्टूबर 1942 को इलाहबाद में हुआ। इनके जन्म के समय कुंभ लग्न तुला नवांश तुला राशि था। इसके साथ ही अमिताभ की कुंड़ली ने इनको सदी का महानायक बनाया। अमिताभ जो बैंक में क्लर्क की साधारण ही नौकरी करने से लेकर फिल्मी इतिहास में अपनी अलग पहचान बनाई।


अमिताभ का जन्म कुंभ लग्न में हुआ। कुंभ स्थिर व पृथ्वी तत्व का प्रधान लग्न माना जाता है। इसके साथ ही ये हमेसा से लोगो से जुडें होते हैं। इनका जन्म धनिष्ठा नक्षत्र में हुआ इस नक्षत्र में जन्म लेने वालों व्यक्ति संगीत प्रिय, दाता, धनी,  सुखी, आशान्वित होते है। इसके साथ ही ऐसे लोग  विनयशील, प्रतिष्ठित, शीलयुक्त होते हैं।

इसके साथ ही इनकी कुंड़ली में धनिष्ठा तीसरे चरण में है जिसके कारण ये विश्वासपात्र, समाज के प्रिय हैं। इसके साथ ही ऐसे लोग चंचल बुद्धि वाले, क्रोधी, जल्दी ही उत्तेजित हो जाने वाले,  हाजिर जवाब देने वाले, काम की प्रशंसा मिलने वाले होता है।  कुंभ लग्न में केतु स्वभाव के कारण ये जिद्दी होते हैं इसके साथ ही ऐसे लोगो की आवाज में दम होता है, लोग इनको सुनना पसंद करते हैं।

कुंडंली का पंचम भाव का स्वामी नीच के शुक्र के साथ होने से भाग्य के साथ इनके सुख भी मिला।  इसके योग के कारण जीवन में कई उतार-चढ़ाव का सामना भी करना पडता है।  इनकी कुंड़ली में लग्न व द्वादश भाव का स्वामी वक्री होने से इनके जीवन में कई प्रतिकूल परिस्थिति का सामना करना पड़ा होगा। आज हम इनको इनके जन्मदिन के अवसर पर हार्दिक बधाई देते हैं व इनके उज्जवल भविष्य की कामना करते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here