Amit Shah ने कोविड टीकाकरण अभियान की स्थिति की समीक्षा की

0

देश भर में हेल्थ वर्कर्स और फ्रंटलाइन वर्कर्स को कोरोना वैक्सीन की दूसरी खुराक दी जा रही है और तीसरे चरण के टीकाकरण अभियान की तैयारियां अंतिम चरण में हैं। इस बीच, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने सोमवार को सार्वजनिक स्वास्थ्य प्रतिक्रिया की जांच के लिए कोविड-19 टीकाकरण अभियान की प्रगति की समीक्षा की। यह बैठक ऐसे महत्वपूर्ण समय में हुई है जब देश में 1.14 करोड़ लाभार्थियों को कोविड टीका लगाया गया है। स्वास्थ्य कर्मियों और फ्रंटलाइन वर्कर्स के लिए 16 जनवरी को टीकाकरण अभियान शुरू किया गया था।

टीकाकरण अभियान का तीसरा चरण मार्च में शुरू होना है। इसमें 50 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को कवर किया जाएगा। कम से कम 50 वर्ष की आयु वर्ग वाले लोगों की संख्या लगभग 27 करोड़ है।

शाह ने गृह मंत्रालय कार्यालय में बैठक की अध्यक्षता की। इसमें कोविड-19 की स्थिति की समीक्षा करने, टीकाकरण के लिए राज्यों और संघ शासित प्रदेशों की तैयारियों का जायजा लेने के लिए केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन भी मौजूद थे।

बैठक में नीति आयोग के सदस्य वीके पॉल, कैबिनेट सचिव, प्रधानमंत्री के प्रधान सचिव, गृह सचिव, स्वास्थ्य सचिव, नेशनल सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल (एनसीडीसी) के निदेशक, एम्स के निदेशक रणदीप गुलेरिया और अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी मौजूद थे।

भारत के ड्रग रेगुलेटर ने 3 जनवरी को पुणे स्थित सीरम इंस्टीट्यूट द्वारा निर्मित ऑक्सफोर्ड कोविड-19 वैक्सीन कोविशिल्ड, और देश में सीमित आपातकालीन उपयोग के लिए भारत बायोटेक द्वारा विकसित कोवाक्सिन को मंजूरी दी थी।

पिछले एक सप्ताह में कोविड मामलों में वृद्धि की खबरों के बीच अब तक 11 लाख से अधिक लोगों को कोविड के दो टीके लगाए जा चुके हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय के ताजा आंकड़ों के अनुसार, देश में सोमवार को पिछले 24 घंटों में 14,199 नए मामले सामने आए। बीमारी के कारण ताजा 83 मौतों के साथ, कुल मिलाकर यह आंकड़ा 1,56,385 तक पहुंच गया है।

नवीनतम जानकारी के अनुसार, सोमवार तक देश भर में कुल 1,14,24,094 कोरोना वैक्सीन की खुराक दी गई।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, भारत वैक्सीन की खुराक देने के मामले में सबसे तेज राष्ट्र बन गया है, हालांकि कई देशों ने बहुत पहले टीकाकरण अभियान शुरू किए थे।

न्यूज स्त्रोत आईएएनएस

SHARE
Previous article#Pilot_How_To_Congress: ट्विटर पर कांग्रेस नेता सचिन पायलट कर रहे ट्रेंड, जानिए वजह….
Next articleदेखे आज का ताज़ा शेयर मार्किट हरे निशान पर बंद हुआ सेंसेक्स, 14700 के पार निफ्टी
बहुत ही मुश्किल है अपने बारे में लिखना । इसलिए ज्यादा कुछ नहीं, मैं बहुत ही सरल व्यतित्व का व्यक्ति हूं । खुशमिजाज हूं ए इसलिए चेहरे पर हमेशा खुशी रहती हैए और मुझे अकेला रहना ज्यादा पंसद है। मेरा स्वभाव है कि मेरी बजह से किसी का कोई नुकसान नहीं होना चाहिए और ना ही किसी का दिल दुखना चाहिए। चाहे वो व्यक्ति अच्छा हो या बुरा। मेरे इस स्वभाव के कारण कभी कभी मुझे खामियाजा भी भुगतान पड़ता है। मैं अक्सर उनके बारे में सोचकर भुला देता हूं क्योंकि खुश रहने का हुनर सिर्फ मेरे पास है। मेरी अपनी विचारए विचारधारा है जिसे में अभिव्यक्त करता रहता हूं । जिन लोगों के विचारों से कभी प्रभावित भी होता हूं तो उन्हें फोलो कर लेता हूं । अभी सफर की शुरुआत है मैने कंप्यूटर ऑफ माटर्स की डिग्री हासिल की है और इस मीडीया क्षेत्र में अभी नया हूं। मगर मुझे अब इस क्षेत्र में काम करना अच्छा लग रहा है। और फिर इसी में काम करने का मन बना लेना दूसरों के लिये अश्चर्य पूर्ण होगा। लेकिन इससे पहले और आज भी ब्लागर ने एक मंच दिया चिठ्ठा के रुप में, जहां बिना रोक टोक के आसानी से सबकुछ लिखा या बताया जा सका। कभी कभी मन में उठ रही बातों या भावों को शब्दों में पिरोयाए उनमें खुद की और दूसरों की कहानी कही। कभी उनके द्वारा किसी को पुकाराए तो कभी खुद ही रूठ गया। कई बार लिखने पर भी मन सतुष्ट नहीं हुआ और निरंतर कुछ नया लिखने मन बनता रहता है। अजीब सी बेचैनी जो न जाने क्या करवाएगी और कितना कुछ कर गुजर जाने की तमन्ना लिए निकले हैं इन सफरों, जहां उम्मीद और विश्वास दोनों कायम हैं जो अर्जुन के भांति लक्ष्य को भेद देंगे । मुझे अभी अपने जीवन में बहुत कुछ करना है किसी के सपनों को पूरा करना हैं । अब तो बस मेरा एक ही लक्ष्य हैं कि मैं बस उसके सपने पूरें करू।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here