अमेरिका का नयां दावं, कहा ईरान से तेल नहीं लेने वाले देशों के साथ करेंगे काम

0
70

जयपुर, अमेरिका ने ईरान पर अपना दबाव बढ़ाने के लेकर नया दावं खेला है। इसे लेकर अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने कहा है कि जो भी देश ईरान से तेल आयात कम करेगा अमेरिका उस देश के साथ व्यापार करने के तैयार है। अमेरिका के एक अधिकारी ने जानकारी देते हुए कहा कि इस फैसले पर कुछ समय के बाद काम किया जाएगा। साथ ही उन्होंने अपने इस दाव से भारत व तुर्की को बाहर रखा है। उन्होंने कहा कि अगर भारत व तुर्की को छूट देदी जाएंगी तो ईरान पर दबाव नहीं बढेगा।Image result for ईरान अमेरिका

अमेरिकी विदेश मंत्रालय में नीति निर्माता निदेशक ब्रायन हुक ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि हमारा मतलब किसी समझोते या किसी लाइसेंस में छूट देने का नहीं है। क्योंकि इससे ईरान पर दबाव कम होगा । जबकि हमारा मकसद ईरान पर अधिक से अधिक दबाव बढ़ाने से है।आपकों बता दे कि भारत में तेल निर्यात करने वाला ईरान दुनियां का तीसरा बड़ा देश है। जिसने जनवरी 2017 से लेकर 2018  तक करीब 1.84 करोड टन तेल का निर्यात किया है।Image result for ईरान अमेरिका

ये है ईरान पर दबाव बनाने की वजह

साल 2015 में अमेरिका व ईरान के बीच एक परमाणु समझौता हुआ था। लेकिन कुछ कारणों की वजह से दोनों देशों के बीच दूरियां बढ़ती चली गई। इसी के चलते अमेरिका ने अपने आप को समझौते से बाहर कर लिया और ईरान पर प्रतिबंध लगा दिए। और ईरान पर दबाव बनाने के लिए अमेरिका ने दुनियां के सभी देशों को ईरान के साथ 180 दिनों में व्यापार समझौतों को खत्म करने समय दिया है। अमेरिका ने कहा है कि सभी देश तय समय तक ईरान के साथ अपना व्यापार कम कर दे । अन्यता अमेरिका प्रतिबधों के लिए तैयार रहे। उन्होंने भारत को भी ईरान से तेल आयात बंद करने के लिए चार नवंबर तक का समय दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here