Sadak 2 Movie Review: आज के समय की सबसे कमजोर कहानी है सड़क 2

0

फिल्म: सड़क 2
निर्देशक: महेश भट्ट
कलाकार: संजय दत्त, आलिया भट्ट, आदित्य रॉय कपूर, जीशू सेनगुप्ता, मकरंद देशपांडे, गुलशन ग्रोवर
रिलीज प्लेटफार्म: डिज्नी प्लस हॉटस्टार पर उपलब्ध
रेटिंग: 2 स्टार

दोस्तों आपको साल 1991 में रिलीज हुई महेश भट्ट के निर्देशन में बनी फिल्म सड़क तो याद ही होगी। फिल्म को दर्शकों ने काफी पसंद किया गया था। साथ ही फिल्म में नजर आने वाले किरदार संजय दत्त और पूजा भट्ट की केमिस्ट्री को आज तक लोग भूल नहीं पाए है। ये उस वक्त की एक शानदार​ फिल्म है। अब इसी को देखते हुए महेश भट्ट ने करीब दो दशक बाद फिल्म सड़क के सीक्वल का निर्माण किया है जो कई दिनों से चर्चा में बनी हुई है। 28 अगस्त को फिल्म ​ओटीटी प्लेटफार्म डिज्नी प्लस हॉटस्टार पर रिलीज हो चुकी है। अगर आप फिल्म को देखने का मन बना रहे हैं तो इससे पहले रिव्यू जरूर जान ले।

अगर हम फिल्म की कहानी की बात करें तो इसकी कहानी शुरू होती है सड़क के किरदार रवि से जो अब सड़क 2 में आते आते उम्रदराज हो चुका है। फिल्म में सड़क और सड़क 2 के तार जोड़ने की पूरी कोशिश की गई है उम्रदराज रवि की प्रेमिका पूजा अब इस दुनिया में नही रही। तो रवि के पास जीने का कोई मकसद नहीं होता है। जबकि वो कोई बार मरने की असफल कोशिश कर चुका है। रवि अपनी बेरंग जिंदगी को किसी तरह से घसीटता हुआ नजर आता हैं ऐसे में एंट्री होती है आर्या यानी आलिया की जिसका मकसद ही अलग होता है। आर्या रवि की बेटी की उम्र की होती है ऐसे में उसको जिंदगी जीने का एक मकसद मिल जाता है। वो आर्या को बचाना चाहता है क्योंकि कुछ लोग आर्या की जान के पीछे पड़े हुए है। अब आलिया की जान के पीछे कुछ लोग क्यों पड़े है इसके बारे में जानने के लिए आपको फिल्म देखनी होगी।

फिल्म की कमी
इस फिल्म की सबसे बड़ी कमी है ​महेश भट्ट का निर्देशन। महेश भट्ट आज के समय में उनकी फिल्म सड़क 2 में 90 के दशक के दौर नजर आता है जो आज के समय में ओटीटी प्लेटफार्म पर दमदार कंटेंट को देखने वाले दर्शकों को बिल्कुल पसंद नहीं आती है। इसमे कई ऐसे स्टूरियो टाइप किरदार है जो 90 के दशक की फिल्मों में ही पसंद किए जाते थे आज के समय में ऐसे किरदार को दर्शक नकारने में जरा भी देर नहीं करते है।

अभिनय
अगर हम अभिनय की बात करें तो वो भी कुछ खास असर नहीं छोड़ पाया है। संजय दत्त के अभिनय से तो आप वाकिफ है उनसे ना तो पहले अभिनय होता था और ना ही अब। वहीं आदित्या रॉय कपूर ​के सिर से आशिकी 2 वाला खुमार उतरा ही नहीं है। वहीं आलिया ने अपने अभिनय में जान डालने की कोशिश तो की है लेकिन कमजोर कहानी की वजह से वो भी असफल होती नजर आती है।

फिल्म का पहला हाफ बोरियत भरा महसूस होता है। वहीं कही कही तो ऐसा लगता है कि फिल्म को जबरदस्ती खीचा है। फिल्म पूरी तरह से डावांडोल लगती है। ये कहा जा सकता है​ कि अगर फिल्म बॉक्स आफिस पर रिलीज होती तो भी ये बुरी तरह पिटती। वरना ये आलिया के करियर की सबसे डिजास्टर फिल्म साबित होती।

इंडियन आइडल में नजर आ चुकी रेणु नागर अस्पताल में हुई भर्ती, जाने पूरा मामला

National Sports Day 2020 Celebration: स्पोर्ट पर आधारित इन फिल्मों को जरूर देखें

सलमान खान ने बिग बॉस 14 के लिए वसूली इतनी मोटी रकम, सुनकर खिसक जाएगी पैरों तले जमीन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here