भारत बंद के बीच राजस्थान में यहां लगा कांग्रेस को जोरदार झटका

0
141

जयपुर। पेट्रोल और डीजल के दाम हो रही लगातार बढ़ोतरी के चलते कांग्रेस ने 10 सितम्बर को भारत बंद का ऐलान किया है। कांग्रेस का दावा है की उनके इस इस विरोध में विपक्ष की करीब 21 पार्टिया शामिल है। वहीं दिल्ली में राहुल गांधी के साथ सोनिया गांधी और पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह भी इस विरोध के समर्थन में नजर आये।

इस बंद के ऐलान पर प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष सचिन पायलट ने ऐलान किया था की वो भी राजस्थान में इस बंद को सफल करने के लिए कार्य करगे, लेकिन राजस्थान में इस बंद का मिला जुला असर दिखा। जहां एक तरफ कांग्रेस ने इस बंद के लिए लोगों को उनकी काम बंद करने को कहा वहीं कुछ लोगों ने इस बंद में समर्थन करने से इनकार कर दिया।

अलवर में कांग्रेस का बंद असफल रहा, बताया जा रहा है की अलवर के व्यापार महासभा का कहना है कि कांग्रेस ने उनके एससी एसटी ऐक्ट में संसोधन के विरोध में बंद को समर्थन नहीं दिया था। इसलिए अब वे भी कांग्रेस के भारत बंद को समर्थन नहीं देंगे और बाजार खुले रखेंगे।  महासभा के समर्थन ने मिलने के चलते शहर में अधिकांश दुकाने खुली रही।वहीं मंडी व सब्ज़ी मंडी सहित अलवर वाहिनी भी चल रही है।

वहीं आपको बता दे की इस बंद के पहले राजस्थान सरकार ने ऐलान कर दिया था की उसने पेट्रोल पर टैक्स को कम कर दिया है, जिससे सोमवार को पेट्रोल के दाम में कमी हुई। आपको बता दे की इस साल के अंत में प्रदेश में विधानसभा के चुनाव है और इस बंद को उन चुनाव से जोड़कर भी देखा जा रहा है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here