अपने ही मिसाइल के निशाने से गिरा था वायुसेना का विमान, पांच अधिकारी दोषी पाए गए: रिपोर्ट

0
43

जयपुर।  पाकिस्तान के साथ हुई हवाई झड़प के 1 दिन में के दिन ही भारतीय मिसाइल ने गलती से ही अपने देश के विमान को निशाना बना दिया था और जिसके चलते करीब 7 लोगों की मौत की खबर सामने आई थी और अब इस मामले में जांच की रिपोर्ट सामने आ गई है और इस जांच रिपोर्ट में बताया गया कि जम्मू-कश्मीर के बड़गाम में 27 फरवरी को वायुसेना का दुर्घटनाग्रस्त हेलीकॉप्टर mi-17 भारतीय मिसाइल का ही निशाना बन गया था.

आपको बता दें कि इस रिपोर्ट में वायु सेना के करीब 5 अधिकारियों को दोषी पाया गया है और इसमें श्रीनगर बेस के चीफ ऑपरेटिंग ऑफिसर भी शामिल करें गए हैं. आपको बता दें कि इन सभी के खिलाफ कड़ी कार्यवाही करने की बात बताई जा रही है और हेलीकॉप्टर के दुर्घटनाग्रस्त होने से छह सैन्य कर्मी सहित सात लोगों की मौत हुई थी और भारतीय वायु सेना ने जांच के नतीजे पर फिलहाल अभी तक कोई भी टिप्पणी नहीं करी है.

बता दे कि वायुसेना मुख्यालय ने घटना की एयर कमोडोर रैंक के अधिकारी के तहत कोर्ट ऑफ इंक्वायरी को आदेश दे दिया है कि जांच में पाया गया कि हेलीकॉप्टर में प्रणाली बंद थी जिससे मित्र या दुश्मन की पहचान करी जा सके.

इसके साथ ही जमीनी अधिकारियों और हेलीकॉप्टर के चालक दल के बीच संचार एवं समन्वय में तालमेल भी नहीं था और इस प्रणाली के तहत हवाई रक्षा रडार से पहचान होती थी जो कि कोई विमान या हेलीकॉप्टर अपने शत्रु के दुश्मन होने का हेलीकॉप्टर होने की पहचान करता था वह काम नहीं कर रहा था और इसी के चलते यह गलती हुई है, जिसके बाद ही कार्रवाई करे जाने की बात कही जा रही है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here