Ahmed Patel Passes Away: युवा सांसद से लेकर गांधी परिवार तक अहमद पटेल का सियासी सफर…

0

अहमद पटेल का कांग्रेस के शीर्ष परिवार की तीन पीढ़ियों इंदिरा, राजीव और सोनिया-राहुल से भरोसे का रिश्ता रहा है। 71 वर्षीय पटेल भारतीय संसद में गुजरात का 8 बार प्रतिनिधित्व कर चुके थे। तीन बार वो लोकसभा और 5 बार राज्यसभा से चुनकर संसद पहुंचे। गुजरात के लिए वो एकमात्र मुस्लिम सांसद रहे हैं। 1977 में अहमद पटेल 26 साल की उम्र में गुजरात के भरूच से लोकसभा चुनाव जीतकर सबसे युवा सांसद बने थे। उस वक्त इंदिरा गांधी की ओर से देश में लगाए गए आपातकाल के खिलाफ लोगों का आक्रोश देखने को मिल रहा था। ऐसे में उनका जीतना इंदिरा सहित राजनेताओं के लिए चौंकाने वाली घटना रही।

पटेल की गांधी परिवार से नजदीकियां इंदिरा के जमाने से रही है। 1977 में जब वे 28 साल के थे तो इंदिरा ने ही उन्हें भरूच से चुनाव में उतारा था। 1980 और 1984 के वक्त कांग्रेस पार्टी में पटेल का कद और बढ़ा। 1993 से वो राज्यसभा सदस्य थे। पटेल हमेशा पर्दे के पीछे की राजनीति में भरोसा करते रहे। सियासी गणित के मास्टमाइंड पटेल को मुद्दे बनाने और उछालने का महारथी माना जाता रहा है। 2004 और 2009 के लोकसभा चुनावों में पटेल को संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन की जीत का अहम रणनीतिकार माना जाता रहा है।

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के सबसे करीब सलाहकार पटेल मनमोहन सरकार के कई अहम फैसलों में निर्णायक भूमिका निभाते थे। बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह और अहमद पटेल के बीच पुरानी अदावत रही है। यह 2010 से बढ़ी जब सोहराबुद्दीन फर्जी एनकाउंटर केस में शाह को जेल जाना पड़ा। माना जा रहा था कि पटेल के इशारे पर ही तत्कालीन सप्रंग सरकार ने शाह को इस मामले में लपेटा था।

Read More…
Bengal Election 2021: क्या गांगुली होंगे बंगाल में BJP का चेहरा? जानिए क्या बोले टीएमसी सांसद…
Ahmed Patel Passes Away: नहीं रहे कांग्रेस के कद्दावर नेता अहमद पटेल, सोनिया के रहे सबसे करीबी सलाहकार….

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here