विश्व कप के बाद अंतराष्ट्रीय क्रिकेट जगत में इन दिग्गज खिलाड़ियों के संन्यास की मांग हुई तेज़

0
103

जयपुर( स्पोर्ट्स डेस्क) – विश्व कप 2019 का समापन हो गया है और इस बार इंग्लैंड के रूप में नया चैंपियन मिला है। टूर्नामेंट में दस टीमों ने भाग लिया जिसमें नौ टीमों के  हाथ  असफलता लगी। कई खिलाड़ियों ने शानदार प्रदर्शन किया तो वहीं कुछ खिलाड़ी फ्लॉप रहे । विश्व कप के साथ ही कई खिलाड़ियों ने संन्यास भी ले लिया है, वहीं इसके बाद और भी कई खिलाड़ियों पर संन्यास लेने का दबाव बना हुआ है जिनके बारे में हम यहां बता रहे हैं –

(1) -महेंद्र सिंह धोनी –

महेंद्र सिंह धोनी के लिए  विश्व कप  2019  इतना  ज्यादा बढ़िया नहीं रहा है । टीम ने तो सेमीफाइनल तक सफर तय किया, पर धोनी  खुद  प्रभावी प्रदर्शन नहीं कर पाए। वहीं टूर्नामेंट  में धीमी बल्लेबा़ज़ी के  लिए आलोचना का शिकार भी रहे हैं यही वजह है कि उन  पर संन्यास का दबाव बना हुआ ।

(2) -फाफ डु प्लेसिस

इस विश्व कप में डु प्लेसिस की  कप्तानी में दक्षिण अफ्रीका का शर्मनाक प्रदर्शन देखने को मिला। टीम   लीग स्टेज तक का ही सफर तय कर पाई है। इसके अलावा डुप्लेसिस  खुद भी बल्ले से   कुछ कमाल नहीं कर पाए ।

(3) लसिथ मलिंगा –

लसिथ मलिंगा भी अपने करियर के अंतिम पड़ाव पर हैं। इस विश्व कप में कुछेक मौके पर तो मलिंगा ने बढ़िया गेंदबाज़ी की लेकिन उनकी टीम नॉकआउट तक नहीं पहुंच पाई। माना जा रहा है कि  मलिंगा का आखिरी विश्व कप  था वह जल्द संन्यास ले सकते हैं।

(4) एंजेलो मैथ्यूज –

श्रीलंका के एंजेलो मैथ्यूज भी  वर्तमान में अपनी टीम के लिए बड़ा योगदान नहीं दे पा रहे हैं। विश्व कप में भी उनकी ओर से कोई बडी़ पारी देखने को नहीं मिली । इसके बाद उन पर भी संन्यास का दबाव है।

(5) क्रिस गेल —

क्रिस गेल का यह आखिरी विश्वकप रहा है इस बात को उन्होंने खुद भी जाहिर कर दिया था। क्रिस गेल अगस्त में भारत के खिलाफ होने वाली सीरीज के दौरान  संन्यास ले सकते हैं।

(6) डेल स्टेन –

डेल स्टेन  विश्व कप  2019 में  अपनी टीम के लिए कोई बडी़ भूमिका नहीं निभा पाए, क्योंकि वह बीच टूर्नामेंट में चोटिल होकर बाहर हो गए थे इसलिए उनका करियर का अंत ही समझा जा रहा है।

(7) आंद्रे रसेल –

 

आंद्रे रसेल भी वेस्टइंडीज के उम्रदराज खिलाड़ियों में से एक हैं और उन्होंने विश्व कप में ऐसा कोई कमाल नहीं किया है। वह भी जल्द इंटरनेशनल क्रिकेट को अलविदा कह सकते हैं, जिससे वेस्टइंडीज  टीम में युवा खिलाड़ियों को मौका मिले ।

(8 )  हाशिम अमला –

विश्व कप में   हाशिम अमला फ्लॉप रहे  और उनकी टीम ने भी खराब प्रदर्शन किया है । हाशिम अमला पर भी  अब संन्यास लेने का दबाव बना हुआ ।

(9) मोहम्मद हफीज –

मोहम्मद  हफीज़ पाकिस्तान के  अनुभवी खिलाड़ियों में से एक हैं वह अपने करियर के अंतिम पड़ाव पर हैं ।यही नहीं  विश्व कप में भी  वह अपना जलवा दिखाने  में नाकाम रहे हैं और उन पर भी संन्यास का दबाव है।

(10)वहाब रियाज़ –

वहाब रियाज की इस साल  करीब दो साल बाद   पाकिस्तान के वनडे टीम में वापसी हुई थी और उन्होंने विश्व कप टीम में शमिल किया गया । पर  वह अपनी टीम को चैंपियन नहीं बना पाए और प्रभावी प्रदर्शन  भी नहीं किया ।

(11)  रॉस टेलर –

विश्व कप में खराब प्रदर्शन करने के बाद अनुभवी खिलाड़ी रॉस टेलर पर भी संन्यास का दबाव मंडराने लगा  है।

(12) सरफराज  अहमद –

सरफराज अहमद के नेतृत्व में पाकिस्तान टीम की ओर विश्व कप में शर्मनाक प्रदर्शन देखने को मिला, वह लीग स्टेजेसे ही बाहर हो गई थी। अब माना जा रहा है कि सरफराज अहमद से कप्तानी छीन सकती है। इसके सरफराज अहमद पर संन्यास का खतरा भी मंडरा सकता है।

(13) मशरफे मुर्तजा –

मशरफे मुर्तजा ने विश्व कप  के बाद अपने संन्यास को लेकर कुछ नहीं कहा था पर  माना जा रहा है कि इस खिलाड़ी पर भी संन्यास लेने का दबाव है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here