डेढ़ साल बाद मिली बेटी को देखकर जोर जोर से रोने लगा पिता, लड़की की आपबीती सुनकर हैरान रह गई पुलिस

0
63

जयपुर, राजस्थान के सीकर से अपहरण कर ले गई युवति आखिर अपने परिजनों तक पहुंच ही गई। पुलिस ने युवती को मेरठ पुलिस की सहायता से रविवार को एक कोठे से बरामद किया है। हालांकि पुलिस के आरोपी हाथ नहीं लगा है।  जानकारी के अनुसार सीकर की रहने वाली दो नाबालिग बहनों का पिछले साल जनवरी  में अपहरण हो गया था। हालांकि इनमे से एक बहन तो दिसंबर में वापस आ गई थी।

वापस आई युवती ने बताया कि दिल्ली की रहने वाली एक महिला काम दिलाने के बहाने ले गई और मैरठ मे रहने वाले एक शक्स को बेच दिया। जो वेश्यावृति का काम करता है। यवुती ने बताया कि उसकी बड़ी बहन को आरोपी महिला ने 80 हजार में बेचा है। लेकिन कुछ समय बाद काजल की मौत होनें पर छोटी बहन वहां से भागकर सीकर आ गई। हालांकि बाद मे युवती की रिपोर्ट पर पुलिस ने दबिश दी लेकिन किशोरी को नहीं पकड़ा जा सका।

युवती के पिता ने बताया की पुलिस के ढीले रवैयै से नाराज पिता ने हाइकोर्ट से गुहार लगाई  थी जिसके बाद पुलस सतर्क हुई। जिसके बाद पुलिस ने टीम बनाकर दिल्ली में रहने वाली ललित को गिरफ्तार किया। जहां उसने बताया कि बड़ी बहन को मैरठ मे एक कोठे पर बेच दिया गया है।

इसके बाद पुलिस ने टीम बनाकर दूसरी युवती को मैरठ से गिरफ्तार कर लिया। लेकिन जब लड़की का पिता अपनी बेटी को देखा तो अपने आंसू नहीं रोक पाया। इस युवती ने बताया कि मैरठ में लोग युवतियों का काम दिलाने का बहाना बनाकर लेकर आते है और उनके साथ वैश्यावृति करवाते है ये लड़किया चाहकर भी उनके चुंगल से नहीं छूठ पाती है। अगर इस दौरान किसी भी तरह का विरोध करती है तो इनके साथ मारपीट की जाती है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here