वास्तुशास्त्र: तुलसी का पौधा घर लाता है सुख समृद्धि, मगर भूलकर भी न लगाएं ये पौधे

0
What is Tulsi ? Its Uses, Side Effects, Interactions, Dosage and advantages

हिंदू धर्म में पेड़ पौधों को बहुत ही खास माना जाता हैं इनकी पूजा भी होती हैं एक ओर जहां पेड़ पौधे से चारों ओर का वातावरण साफ होता हैं तो वही दूसरी ओर यह व्यक्ति के जीवन में सुख समृद्धि और भाग्य में चमत्कारी परिवर्तन लेकर भी आते हैं। वास्तुविज्ञान के मुताबिक घर में पड़े पौधे लगाने से सकारात्मकता का संचार होता हैं हिंदू धर्म की मान्यता है कि पेड़ पौधों में देवताओं का वास होता हैं। वास्तु के अनुसार घर पर तुलसी का पौधा, केले का पौधा और शमी का पौधा लगाने से शुभ फल मिलते हैं वास्तु में कुछ पौधों को लगाने से शुभ फल की प्राप्ति होती हैं तो वही कुछ पेड़ पौधों को लगाना वर्जित माना गया हैं तो आज हम आपको बताने जा रहे हैं वास्तु अनुसार किन पौधो को लगाना शुभ होता हैं और किन्हें लगाना अशुभ माना गया हैं तो आइए जानते हैं।

धार्मिक अनुष्ठान या पूजा पाठ के कार्यक्रम में तुलसी के पत्तों के बिना पूजा पूरी नहीं मानी जाती हैं वास्तु अनुसार तुलसी का पौधा घर से नकारात्मकता को दूर करता हैं इस पौधे को घर की पूर्व दिशा या फिर पूर्व उत्तर की दिशा में लगाना शुभ होता हैं हिंदू धर्म को मानने वाले लोगों के घरों में तुलसी का पौधा जरूर होता हैं। वही जितना महत्व तुलसी का पूजा पाठ में होता हैं उतना ही केले के पौधे का भी माना गय हैं घर पर इस ​पौधे को लगाने पर मन शांत और सुख समृद्धि आती हैं वास्तु के मुताबिक केले का पेड़ को पूर्व उत्तर की दिशा में होना चाहिए।

वही आंवले के पेड़ में श्री विष्णु का निवास होता हैं ऐसी मान्यता हैं कि इस पेड़ को लगाने से हर तरह के पाप का नाश हो जाता हैं और व्यक्ति की मनोकामनाएं भी पूरी होती हैं। अशोक के पेड़ से हर तरह के दोष दूर होते हैं और घर से नकारात्मकता भी दूर हो जाती हैं इस पेड़ को घर के उत्तर दिशा में लगाना चाहिए। धार्मिक रूप से पीपल के पेड़ का विशेष महत्व होता हैं पीपल के पेड़ में देवताओं और पितरों का वास माना गया हैं मगर वास्तु के मुताबिक घर में पीपल का पेड़ नहीं लगाना चाहिए। घर पर पीपल के पेड़ लगाने या उगने से दुर्भाग्य पैदा हो जाता हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here