भारतीय मूल के अभिजीत बनर्जी को अर्थशास्त्र का नोबेल

0
389

जयपुर। भारतीय-अमेरिकी अभिजीत बनर्जी को साल 2019 के लिए अर्थशास्त्र का नोबेल पुरस्कार दिया जा रहा है और उन्हें यह पुरस्कार फ्रांस के स्थल रूपों और अमेरिका के माइकल कैंब्रिज के साथ संयुक्त रूप में दिया जा रहा है.

नोबेल समिति के बयान के मुताबिक बताया जा रहा है कि इस वर्ष पुरस्कार विजेताओं का शोध वैश्विक स्तर पर गरीबी से लड़ने में हमारी क्षमता को बेहतर बनाने और मात्र दो दशक में उनके नए प्रयोग धर्मी दृष्टिकोण ने विकास अर्थशास्त्र को पूरी तरीके से बदल दिया है इस बात पर केंद्रित है. वहीं विकास अर्थशास्त्र वर्तमान में शोध का एक प्रमुख क्षेत्र है.

वही आपको बता दें कि भारतीय मूल के अभिजीत बनर्जी ने भारत में कोलकाता विश्वविद्यालय और जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय में अपनी पढ़ाई करी है वही आपको बता दें कि इसके बाद 1988 में उन्होंने हावर्ड विश्वविद्यालय से पीएचडी में उपाधि हासिल करते हुए मौजूदा समय में वह मौसा चिपसेट्स इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी में अर्थशास्त्र के प्रोफेसर हैं.

वही आपको बता दें कि अभिषेक बनर्जी ने साल 2003 में डुप्लो और सैंडल मुल्ला धन के साथ मिलकर अब्दुल लतीफ जमील पावर्टी एक्शन लैब की स्थापना करी थी यह वह प्रयोगशाला के निदेशक के रूप में काम कर रहे थे. वही अभिषेक बनर्जी संयुक्त राष्ट्र महासचिव 2015 के बाद विकासात्मक एजेंडे पर विद्वान व्यक्तियों की उच्च स्तरीय समिति के सदस्य भी रह चुके हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here