ऑटोपायलट मोड में 55 कारें चली एक साथ, बनाया वर्ल्ड रिकॉर्ड

0
76

जयपुर। भारतीय मार्केट में ऑटोनॉमस कारें आज भी सपने की तरह है जिसके पूरा होने पर शायद अभी सालों लग जाएंगे। लेकिन हाल ही में चीन में कार निर्माता चैगन ने ऑटोनोमस कारों की सबसे बड़ी परेड कर एक नया वर्ल्ड रिकॉर्ड बना दिया है जिसे गिनीज रिकॉर्ड में शामिल किया गया है। चीन के शहर चोंगकिंग में चंगान के मुख्यालय के पास डियानजियांग परीक्षण ट्रैक पर करीब रिकॉर्ड बनाने प्रयास किया था।

रिपोर्ट के अनुसार, इस प्रयास के दौरान 30 किलोमीटर तक प्रति घंटे की रफ्तार से ट्रैक के करीब 3.2 किलोमीटर तक 56 क्रॉसओवर गाड़ियों को दौड़ाया गया। हालांकि इस प्रयास के बीच इस काफिले में शामिल एक कार को अयोग्य भी घोषित कर दिया गया।

जानकारी के अनुसार इस काफिले में हर कार को लगभग दो कार की लंबाई से दूरी पर रखा गया। वहीं इस पूरे प्रयास को पूरा करने में नौ मिनट और सात सेकंड का समय लगा। बता दें कि इस समय हमारी टेक्नोलॉजी काफी तेजी से बढ़ रही है और देश में उबर और हाइपरलूप जैसी कंपनियां इस क्षेत्र मे काफी काम भी कर रही है। ऐसे वाहनों से आने वाले समय में ट्रैफिक की समस्या से काफी छुटकारा मिलेगा।

देश में इस समय कई कंपनियां फ्लाइंग टैक्सी पर भी काम कर रही है। ये गाड़ियां कई मामलों में काफी उपयोगी और ट्रैफिक की समस्या के निदान के रूप में देखी जा रही है। टेक्नोलॉजी कंपनियां नासा से मिलकर उड़ने वाले उबर बोइंग और एयरबस ट्रेक्सी और कार के निर्माण पर काम कर रही है, जो संभवत अगले पांच साल में तैयार हो जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here