नोटबंदी से बर्बाद हुए 5 लुटेरे, नहीं बदल पाए 5.8 करोड़ के नोट

0
75

जयपुर, 8 नवंबर 2016 को भारत सरकार ने एक हजार व पांच सौ के नोटों को चलने से बाहर कर दिया था। जिसके बाद पूरे देश मे काफी बवाल हुआ था। हम समाचार चैनल पर भी देखते रहते है कि इस बारे में डिबेट होती रहती है। लेकिन आज आपको एक ऐसा मामला बता रहे हैं जिसके बारे में जानने के बाद हर कोई हैरान है। क्योंकि देश की नोटबंदी ने पांच लुटेरों को कंगाल कर दिया।

इतना ही नहीं वह पांचो फिलहाल जेल की हवा खा रहे हैं। दरअसल  मामला तमिलनाडु में सलेम-चेन्नई एक्सप्रेस ट्रेन की लूट से जुड़ा हुआ है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक लुटेरों ने माल गाड़ी की छत काटकर करीब छह करोड़ रूपये की लूट को अंजाम दिया था। जिसमें अधिकाश नोट एक हजार व पांच सौ के थे। लुटेरों ने घटना को अंजाम तो दे दिया लेकिन कुछ समय बाद सरकार ने ने नोटबंदी कर दी जिससे वह नोट नहीं बदलवा सके।Image result for नोट बंदी से बर्बाद हुए लुटेरे

बात दें कि ट्रेन को लूटने के लिए इन लुटेरों ने काफी दिन तक इसकी रैकी भी की थी। कई दिनों तक रैकी करने के बाद पांचों ने अयोथिपट्टनम और विरुदचलम स्टेशनों के आसपास लूटने का प्लान तैयार किया था। क्योंकि दोनों स्टेशनों के बीच की दूरी करीब 50 मिनट की थी।Image result for नोट बंदी से बर्बाद हुए लुटेरे

जहां इन आरोपियों ने घटवना को अंजाम दे दिया। और कपड़े की गांठे बांधकर पैसा लेकर फरार हो गया। हालाकि सीआईडिसीबी ने इन लुटेरों को आसानी से पकड़ लिया। जहां पूछताछ में इन्होनें बताया कि पकड़े जाने के डर से वह पैसे को बदलवा नहीं पाए। फिलहाल सभी आरोपी पुलिस की हिरासत में है। जहां जेल की हवा खा रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here