2+2 वार्ता – भारत को एनएसजी की सदस्यता दिलाने के लिए सहयोग करेगा अमेरिका

0
31

जयपुर,  गुरूवार को हुई टू प्लस टू वार्ता में इस बात पर सहमति बनी की अमेरिका भारत को परमाणु आपूर्तीकर्ता समूह में सदस्याता दिलाने के लिए काम करेगा। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज और रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण व माइक पोंपियो व जिममैटिस के बीच हुई वार्ता मे इस बात पर समहति बनी। पत्रकारो को जानकारी देते हुए सुषमा स्वराज ने कहा कि अमेरिका द्वारा सामरिक व्यापार प्राधिकरण-1 लाइसेंस छूट सूची में भारत को शामिल किया है Image result for टू प्लस टू वार्ता

यह भारत के मजबूत और जिम्मेदार निर्यात नियंत्रण नीति को दर्शाता है। साथ ही उन्होंने कहा कि हमने इस बैठक में तय किया है कि परमाणु आपूर्तिकर्ता समूह में सदस्यता लेने के लिए दोनों देश मिलकर काम करेंगे। बता दें कि वार्ता में भारत व अमेरिका के बीच खास करार भी हुआ है। जिसके लिए दोनों देशों के नेताओं ने एक रक्षा करार पर हस्ताक्षर किए।Image result for टू प्लस टू वार्ता

जिसके तहत भारतीय सेना को अमेरिका से महत्वपूर्ण और एन्क्रिप्टिड रक्षा प्रौद्योगिकियां मिलेंगी। इस वार्ता में अमेरिका ने सीमा पार आतंकवाद पर भी चर्चा की है। ‘टू प्लस टू’ वार्ता से पहले पोम्पिओ के साथ द्विपक्षीय मुलाकात के बारे में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने बताया कि उन्होंने दोनों देशों के बीच संबंधों को बढ़ाने सहित साझा हितों के लिए बात की है।Image result for टू प्लस टू वार्ता

तेजी से बढ़ते व्यापार और निवेश को द्विपक्षीय रिश्ते का महत्वपूर्ण तत्व बताते हुए विदेश मंत्री ने कहा कि यह वृद्धि अधिक गहन आर्थिक साझेदारी के लिए नये अवसर पैदा कर रही है। यह भारत के लोगों के लिए नए रोजगार का सृजन करती है। जिससे देश को विकास के लिए एक नया रास्ता मिलता है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here