भारत में Corona के 18,327 नए मामले

0

भारत में कोरोनावायरस के 18,327 नए सामने आने के साथ देश में छह सप्ताह में सबसे अधिक एक दिवसीय संक्रमण मामले दर्ज हुए हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा शनिवार को साझा किए गए आंकड़ों में यह जानकारी दी गई।

नया आंकड़ा एक दिन पहले दर्ज मामले के मुकाबले 1,489 मामलों की वृद्धि दर्शाता है।

पिछली बार भारत ने 28 जनवरी को 18,000 से अधिक एक -दिवसीय मामलों की रिपोर्ट की थी।

देश में कुल मामलों की संख्या बढ़कर अब 1,11,92,088 हो चुकी है।

हालांकि, मृतकों की संख्या में मामूली गिरावट दर्ज की गई।

एक दिन पहले दर्ज 113 के मुकाबले पिछले 24 घंटों में कम से कम 108 मौतें दर्ज की गईं।

वर्तमान में कोरोना से जान गंवा चुके कुल लोगों की संख्या 1,57,656 है।

इस बीच, सक्रिय मामले भी धीरे-धीरे बढ़ रहे हैं, जो चिंता का कारण है।

पिछले दो दिनों में इसमें 0.06 प्रतिशत की वृद्धि हुई, जिसने वर्तमान दर को बढ़ाकर 1.61 प्रतिशत कर दिया गया।

मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, वर्तमान में 1,80,304 सक्रिय मामले हैं।

इसके अलावा, कोविड-19 के 14,234 मरीजों को एक दिन में छुट्टी दी गई। अब तक कुल 1,08,54,128 लोगों को अस्पतालों से छुट्टी दी जा चुकी है।

रिकवरी दर घटकर 97.98 फीसदी हो गई है।

रिकवरी दर में गिरावट और नए और संबंधित सक्रिय मामलों में वृद्धि को विभिन्न कारकों के लिए जिम्मेदार ठहराया गया है जिसमें महाराष्ट्र में लगातार मामलों में वृद्धि और पंजाब में संक्रमण में तेजी शामिल है।

28 फरवरी से 5 मार्च के बीच, महाराष्ट्र में 51,612 नए मामले सामने आए।

पंजाब एक और कोविड-19 हॉटस्पॉट के रूप में उभर रहा है। राज्य ने गुरुवार को 1,071 नए कोविड-19 मामले दर्ज किए, जो नवंबर 2020 के बाद सबसे अधिक है।

मंत्रालय ने यह भी बताया कि शुक्रवार को 7,51,935 नमूनों का परीक्षण किया गया था।

इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (आईसीएमआर) द्वारा अब तक किए गए कुल परीक्षण 22,06,92,677 हैं।

16 जनवरी को टीकाकरण अभियान शुरू होने के बाद से अब तक, देश् में लोगों को कोविड -19 वैक्सीन की अब तक 1,94,97,704 खुराकें दी जा चुकी है।

न्यूज सत्रोत आईएएनएस

SHARE
Previous articleTAAPSEE PANNU :आयकर विभाग की रेड पर तापसी ने कहा NOT SO SASTI ANYMORE
Next articleDalai Lama ने लगवाई कोविड वैक्सीन, लोगों से भी टीका लगवाने का किया आग्रह
बहुत ही मुश्किल है अपने बारे में लिखना । इसलिए ज्यादा कुछ नहीं, मैं बहुत ही सरल व्यतित्व का व्यक्ति हूं । खुशमिजाज हूं ए इसलिए चेहरे पर हमेशा खुशी रहती हैए और मुझे अकेला रहना ज्यादा पंसद है। मेरा स्वभाव है कि मेरी बजह से किसी का कोई नुकसान नहीं होना चाहिए और ना ही किसी का दिल दुखना चाहिए। चाहे वो व्यक्ति अच्छा हो या बुरा। मेरे इस स्वभाव के कारण कभी कभी मुझे खामियाजा भी भुगतान पड़ता है। मैं अक्सर उनके बारे में सोचकर भुला देता हूं क्योंकि खुश रहने का हुनर सिर्फ मेरे पास है। मेरी अपनी विचारए विचारधारा है जिसे में अभिव्यक्त करता रहता हूं । जिन लोगों के विचारों से कभी प्रभावित भी होता हूं तो उन्हें फोलो कर लेता हूं । अभी सफर की शुरुआत है मैने कंप्यूटर ऑफ माटर्स की डिग्री हासिल की है और इस मीडीया क्षेत्र में अभी नया हूं। मगर मुझे अब इस क्षेत्र में काम करना अच्छा लग रहा है। और फिर इसी में काम करने का मन बना लेना दूसरों के लिये अश्चर्य पूर्ण होगा। लेकिन इससे पहले और आज भी ब्लागर ने एक मंच दिया चिठ्ठा के रुप में, जहां बिना रोक टोक के आसानी से सबकुछ लिखा या बताया जा सका। कभी कभी मन में उठ रही बातों या भावों को शब्दों में पिरोयाए उनमें खुद की और दूसरों की कहानी कही। कभी उनके द्वारा किसी को पुकाराए तो कभी खुद ही रूठ गया। कई बार लिखने पर भी मन सतुष्ट नहीं हुआ और निरंतर कुछ नया लिखने मन बनता रहता है। अजीब सी बेचैनी जो न जाने क्या करवाएगी और कितना कुछ कर गुजर जाने की तमन्ना लिए निकले हैं इन सफरों, जहां उम्मीद और विश्वास दोनों कायम हैं जो अर्जुन के भांति लक्ष्य को भेद देंगे । मुझे अभी अपने जीवन में बहुत कुछ करना है किसी के सपनों को पूरा करना हैं । अब तो बस मेरा एक ही लक्ष्य हैं कि मैं बस उसके सपने पूरें करू।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here