12 लाख ग्राहकों ने अपने नंबर बीएसएनएल में स्थानांतरित कराए

0
173

वित्त वर्ष 2017-18 में मोबाइल नेटवर्क क्षेत्र में उपभोक्ताओं का भरोसा भारत सरकार की राज्य की स्वामित्व वाली भारत संचार निगम लिमिटेड (बीएसएनएल) पर बढ़ा है। इस दौरान 12 लाख मोबाइल उपभोक्ताओं ने अपने मोबाइल नंबर बीएसएनएल में पोर्ट करा लिए हैं। ‘कोलकाता टेलीफोन्स’ के मुख्य महाप्रबंधक एस.पी. त्रिपाठी ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, “पिछले वित्त वर्ष में मोबाइल उद्योग के राजस्व संग्रह में 10 से 20 फीसदी की कमी होने के बावजूद बीएसएनएल का राजस्व संग्रह अन्य मोबाइल सेवा प्रदाता कंपनियों से बेहतर रहा है।”

कंपनी ने सिम कार्ड बेचने का लक्ष्य प्राप्त करने और ग्राहकों की शिकायतों का निस्तारण करने में भी अच्छा प्रदर्शन किया है।

त्रिपाठी ने कहा, “पिछले वित्त वर्ष (2017-18) में देश भर में 12 लाख मोबाइल उपभोक्ताओं ने अन्य कंपनियों को छोड़कर बीएसएनएल को वरीयता दी।”

उन्होंने कहा कि बीएसएनएल-कोलकाता मोबाइल्स ने नया फैमिली ब्रॉडबैंड संयुक्त ऑफर पेश किया है, जिसके अनुसार तीन मोबाइल कनेक्शनों को देश भर में किसी भी मोबाइल सेवा प्रदाता कंपनी से असीमित कॉल और 1,199 रुपये के मासिक शुल्क वाला इंटरनेट प्लान उपभोक्ता द्वारा सुझाए गए परिजनों को दे दिए जाएंगे।

उन्होंने कहा कि इस दौरान 40 जीबी खर्च होने तक इंटरनेट की 10 एमबी प्रति सेकेंड की दर से चलेगा तथा इसके बाद दो एमबी प्रति सेकेंड की दर से चलेगा। त्रिपाठी ने इस प्लान से कंपनी का व्यापार बढ़ने की उम्मीद जताई।

लैंडलाइन कनेक्शन के विभिन्न प्लान की जानकारी देते हुए त्रिपाठी ने कहा कि लैंडलाइन के विभिन्न प्लान में एक नई सुविधा जोड़ी गई है। इसके तहत रविवार और रात्रि के समय किसी भी बीएसएनएल के नेटवर्क पर निशुल्क बात की जा सकती है।

उन्होंने कहा कि लैंडलाइन, ब्रॉडबैंड और एफटीटीच कनेक्शन लगाने का सेवा शुल्क माफ कर दिया गया है।

न्यूज स्त्रोत आईएएनएस

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here