ये फल तेजी से वजन घटाने में मदद कर सकते हैं, जानिए कैसे

0

वजन बढ़ाना बहुत आसान है, लेकिन बढ़े हुए वजन को कम करना और इसे स्वस्थ तरीके से संतुलित रखना एक मुश्किल काम है। यदि आप इसे प्राप्त करने के लिए फलों का उपयोग करना शुरू करते हैं, तो आप कुछ दिनों में वांछित परिणाम प्राप्त कर सकते हैं।

विशेषज्ञों का कहना है कि वजन को संतुलित रखने के लिए या बढ़े हुए वजन को कम करने के लिए, आपको रोजाना अपने भोजन में अधिक फाइबर, खनिज और विटामिन शामिल करने चाहिए।

उनकी सलाह है कि कार्बोहाइड्रेट, जंक फूड से परहेज करते हुए दिन में 30 मिनट तक व्यायाम या पैदल चलने से बचें। वे कहते हैं कि फलों में कम कैलोरी और अधिक विटामिन, खनिज और फाइबर होते हैं।

फल आपके स्वास्थ्य के लिए भी महत्वपूर्ण हैं और तेजी से वजन घटाने में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। फलों के आहार को अपनाने से शरीर को वह सभी पोषण मिलते हैं जिनकी आवश्यकता होती है और परहेज़ के कारण कोई कमजोरी नहीं होती है।

नींबू

नींबू तीखे फलों के परिवार से संबंधित है। इसमें विटामिन सी भरपूर मात्रा में पाया जाता है। नींबू भी चयापचय को पिघलाता है, प्रतिरक्षा और वसा बढ़ाता है। मोटे लोगों को रोजाना एक नींबू का इस्तेमाल करना चाहिए। नींबू का सेवन सलाद या सैलून पर निचोड़कर या नींबू पानी बनाकर किया जा सकता है। नींबू पानी में बहुत अधिक नमक और चीनी न मिलाएं। गुनगुने पानी में नींबू मिलाकर पीने से फायदा और बढ़ जाता है।

सेब, नाशपाती

सेब और नाशपाती दोनों में पानी की मात्रा अधिक होती है। दोनों फलों को छिलके सहित खाने से अतिरिक्त फाइबर मिलता है। यह लंबे समय तक पेट को भरा रखने में मदद करता है। उनके रस के बजाय फल खाने से शरीर में अतिरिक्त वसा जमा नहीं होने देता है।

शकरकंद

मीठी सर्दी बहुतायत में पाई जाती है। शकरकंद एक स्वादिष्ट फल है। इसे उबालकर या भूनकर दोनों तरह से खाया जाता है। इसमें फाइबर और कैलोरी भी भरपूर होती है। इसके अलावा, पोटेशियम, बीटा कैरोटीन, विटामिन सी उपलब्ध हैं। ये सभी मोटापे से छुटकारा दिलाने में मदद करते हैं।

तरबूज

तरबूज में पोटेशियम की एक महत्वपूर्ण मात्रा होती है। आमतौर पर वयस्क के शरीर का 50-60 प्रतिशत वजन पानी पर आधारित होता है। से अधिक होने को पानी का भार कहा जाता है। यह पेट फूलना और सूजन का कारण बनता है और लोगों को अधिक मोटा बनाता है। एक शोध में बताया गया है कि तरबूज का शरबत पीने से शरीर की वसा नष्ट होती है और कोलेस्ट्रॉल की सतह भी कम होती है।

पपीता

मोटापे से छुटकारा पाने के लिए पपीता बहुत फायदेमंद साबित हो सकता है। फाइबर से भरपूर होने के कारण पपीता खाने की आदत पेट को अधिक समय तक भरा रखती है। इसके अलावा असमय खाने की इच्छा से भी राहत मिलती है। पपीते में मौजूद एंटी-ऑक्सीडेंट्स शरीर के वजन को कम करते हैं, जो पेट पर वसा को घोलने के रास्ते में सबसे बड़ी बाधा है। यह फल पाचन तंत्र को बेहतर बनाने में भी सहायक है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here