क़ब्र के लिए अगर ज़मीन चाहिए तो वंदे मातरम बोलना पड़ेगा: केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह

0
105

जयपुर। केंद्रीय मंत्री और बिहार के बेगूसराय से लोकसभा चुनाव के प्रत्याशी गिरिराज सिंह ने एक बार फिर विवादित बयान दिया है बयान देने के लिए जाने जाने वाले केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने एक और बयान देकर विवाद खड़ा कर दिया है पिछले 25 अप्रैल को बेगूसराय में हुई जनसभा के दौरान गिरिराज सिंह ने कहा कि लोग सांप्रदायिक पहला नाचा रहे हैं भारतीय जनता पार्टी जब तक है कि बिहार में होगा नहीं बेगूसराय की धरती पर होने देंगे.

इसके अलावा आरजेडी के उम्मीदवार दरभंगा में कहते हैं कि वंदे मातरम मैं नहीं बोलूंगा बेगूसराय में भी कुछ लोग आकर बड़े भाई का कुर्ता और छोटे भाई को पजामा पहन कर विश्व बंधन कर रहे हैं इसके अलावा उन्होंने कहा कि वह कहना चाहते हैं कि जो वंदे मातरम नहीं कह सकता जो भारत की मातृभूमि को नमन नहीं कर सकता है उन्होंने कहा कि अरे गिरिराज के तो बाबा दादा सिमरिया घाट में में गंगा के किनारे मरे और उसी भूमि पर फिर हमने कोई खबर नहीं बनाया तुम्हें तो दो-तीन हाथ की जगह भी चाहिए अगर तुम नहीं कर पाओगे तो देश कभी माफ नहीं करेगा.

इसके अलावा बेगूसराय में हुई इस सभा में भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह भी मौजूद रहे वहीं आपको बता दें कि कुछ दिन पहले दरभंगा से आरजेडी के उम्मीदवार अब्दुल बारी सिद्दीकी ने एक समाचार चैनल से बातचीत करते हुए कहा था कि भारत माता की जय कहने में उन्हें दिक्कत नहीं है लेकिन वंदेमातरम कहना उनके धार्मिक विश्वास के खिलाफ है जिसके बाद अब भारतीय जनता पार्टी के नेता ने यह प्रतिक्रिया दी है.

इसके अलावा गिरिराज सिंह के इस बयान के बाद एक बार फिर से उनके इस बयान को लेकर विवाद शुरू हो चुका है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here