अपने आपको मल्टीटैलेंटड मानती है सुगंधा मिश्रा, पुरुष कलाकारों को देना चाहती है कड़ी टक्कर

0
60

टीवी एक्ट्रेस सुगंधा मिश्रा अपनी कॉमेडी को लेकर काफी चर्चा में है टीवी का मशहूर चेहरा बन चुकी सुगंधा इन दिनों छोटे पर्दें पर अपनी सुरीली आवाज और अपने टैलेंट को लेकर सुर्खियां बटौर रही है हाल ही में सुगंधा ने अपने एक इंटरव्यू में शिरकत की इस दौरान उन्होने अपने करियर के बारे में बात की।सुगंधा ने कहा कि ‘छोटे परदे में बनने वाले रिऐलिटी शो में पुरुष कलाकारों को मुख्य अहमियत दी जाती है, जिसकी वजह से हम जैसे टैलेंटड आर्टिस्ट को अपना जौहर दिखाने का पूरा मौका नहीं मिलता और हम पीछे रह जाते हैं।’

बता दें सुगंधा ने मिथुन चक्रवर्ती के सात फिल्म साइन की है जिसे लेकर सुगंधा ने कहा कि फिल्म ‘हीरोपंथी’ में छोटी सी भूमिका निभाने के बाद छोटे और कमजोर रोल से दूरी बनाकर रखने वाली सुगंधा ने एक फिल्म साइन की है। इस फिल्म में उनका बड़ा और मजबूत रोल है। फिल्म के बारे में बताते हुए सुगंधा कहती हैं, ‘पहली बार आप मुझे बड़े रोल में बड़े परदे पर देखेंगे। मेरी इस फिल्म का नाम भूतियापा है। फिल्म में मेरे अलावा मिथुन चक्रवर्ती, कृष्णा अभिषेक सहित कॉमिडी करने वाले और भी लोग हैं। कॉमिडी और डर को मिक्स करके जो सिचुएशन बनेगी, उससे हम लोगों को हंसाएंगे, यह डराने के लिए नहीं, बल्कि हंसाने वाली फिल्म है। लोगों को हमारी फिल्म के भूत पर कम और यापा पर ज्यादा ध्यान देना होगा।’

नेपोटिज्म को लेकर सुगंधा कहती है ‘अब कॉमिडी की दुनिया में महिलाओं को तवज्जो मिल रही है। अब जाकर भारती सिंह अपना शो ला पाई हैं। टीवी की दुनिया में जब भी कोई कॉमिडी शो का फॉर्मेट तैयार किया जाता है, उसे मेल ऑरीएन्टड बनाया जाता है। मैं कहूंगी जिस तरह फिल्मों में नेपोटिजम होता है, ठीक उसी तरह टीवी की दुनिया में जो रिऐलिटी शो या कॉमिडी शो बनते हैं, उसमें मेलोटिजम यानी पुरुष को प्रधानता दी जाती है। फिल्मों में भी हमें सपॉर्टिंग किरदार के लिए लिया जाता है।’

सुगंधा ने कहा कि ‘विदेशो में देखा जाए तो बहुत सी महिला कमीडियन के शो हैं। अब कॉमिडी करने के लिए जरूरी नहीं है कि कमीडियन दिखना ज़रूरी है, मोटे होना या फनी दिखना जरूरी है। अच्छी-खासी दिखने वाली लड़की भी भी दिमाग वाली हो सकती है। लोगों को लगता है कि सुंदर लड़कियों के पास दिमाग नहीं होता। अब मैं भी तो सुंदर हूं, टैलंटड हूं, मेरे पास दिमाग कितना और कैसा है दुनिया को पता है।’

अपने आपको भारती से कंपेयर करने पर सुगंधा ने कहा भारती से जुड़े सवाल का जवाब देते हुए सुगंधा हंसते हुए, ‘मैं और भारती सिंह एक साथ आए थे लॉफ्टर चैलंज से। भारती बहुत टैलंटड हैं। मैं अपनी जगह पर हूं और भारती की अपनी जगह है। ( चुटकी लेते हुए ) भारती को थोड़ी ज्यादा जगह वैसे भी लगती है, इसलिए वह सबको दिखाई देती हैं। ( कॉमिडी के अंदाज में) मैं थोड़ी कमसिन और पतली सी हूं।’ खिलखिलाते हुए सुगंधा कहती हैं, ‘मुझे भारती से बिल्कुल भी जलन नहीं होती है, भारती प्रॉपर कमीडियन है और मैं मल्टीटैलंटड हूं और इंटरटेनर हूं। क्योंकि मेरा और उनका जॉनर एकदम अलग है। ( जोर से हंसती हैं ) सच तो यह है कि मैं भारती की तरह कमीडियन नहीं, बल्कि इंटरटेनर हूं। ( मस्ती में खुद को महत्व देते हुए ) मैं एक कम्प्लीट पॅकेज हूं, मेरे अंदर इतना ज्यादा टेलंट है कि लोगों को समझ ही नहीं आता कि वह मुझे किस कैटिगरी में रखें। (निराश होते हुए ) इसी वजह से मुझे ढंग का कोई अवॉर्ड भी नहीं मिला आज तक। अवॉर्ड में कैटिगरी होती है, बेस्ट कमीडियन का अवॉर्ड प्रॉपर कॉमिडी करने वालों को मिलेगा, बेस्ट सिंगर का अवॉर्ड प्रॉपर सिंगर को मिलेगा।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here